Tuta Hua Dil

Tuta Hua Dil

 

Tuta Hua Dil
Tuta Hua Dil



टूटे हुए दिल ने भी उसके लिए दुआ मांगी, मेरी साँसों ने हर पल उसकी ख़ुशी मांगी, न जाने कैसी दिल्लगी थी उस बेवफा से, के मैंने आखिरी ख्वाहिश में भी उसकी वफ़ा मांगी |


टूटे दिल की धड़कन रुक गयी आँखों में आंसू दे कर चली गयी
वक्त का पता न चला दर्द में कब जिंदगी मौत में बदल गयी |


Post a Comment

0 Comments